Latest

Ankh Hai Bhari Bhari Lyrics from Movie Tum Se Achcha Kaun Hai (2002)

  


Ankh Hai Bhari Bhari Lyrics from Movie Tum Se Achcha Kaun Hai (2002) | Bollywood Lyrica


Title
Ankh Hai Bhari Bhari

SingersKumar Sanu & Alka Yagnik


Lyrics: Sameer


Music LabelVenus Records & Tapes Pvt Ltd



Ankh Hai Bhari Bhari Song Lyrics in Hindi

आँख है भरी भरी और तुम
मुस्कुराने की बात करते हो
आँख है भरी भरी और तुम
मुस्कुराने की बात करते हो
ज़िन्दगी खफा खफा और तुम
दिल लगाने की बात करते हो
आँख है भरी भरी और तुम
मुस्कुराने की बात करते हो

मेरे हालत ऐसी है की
मैं कुछ कर नहीं सकता
मेरे हालत ऐसी है की
मैं कुछ कर नहीं सकता
तड़पता है यह दिल लेकिन
यह आहें भर नहीं सकता
ज़ख्म है हरा हरा और तुम
चोट खाने की बात करते हो
ज़िन्दगी खफा खफा और तुम
दिल लगाने की बात करते हो
आँख है भरी भरी और तुम
मुस्कुराने की बात करते हो

ज़माने में भला कैसे
मोहब्बत लोग करते है
ज़माने में भला कैसे
मोहब्बत लोग करते है
वफ़ा के नाम की अब तो
शिकायत लोग करते है
आग है बुजी बुजी और तुम
लौ जलने की बात करते हो
ज़िन्दगी खफा खफा और तुम
दिल लगाने की बात करते हो
आँख है भरी भरी और तुम
मुस्कुराने की बात करते हो

कभी जो ख्वाब देखा तो
मिली परछाईयाँ मुझ को
कभी जो ख्वाब देखा तो
मिली परछाईयाँ मुझ को
मुझे महफ़िल की ख्वाहिश थी
मिली तनहाईयाँ मुझको
हर तरफ़ धुआँ धुआँ और तुम
आशियाने की बात करते हो
ज़िन्दगी खफा खफा और तुम
दिल लगाने की बात करते हो
आँख है भरी भरी और तुम
मुस्कुराने की बात करते हो






Ankh Hai Bhari Bhari Lyrics in English

Aankh Hain Bhari Bhari Aur
Tum Muskurane Ki Baat Karte Ho
Aankh Hain Bhari Bhari Aur
Tum Muskurane Ki Baat Karte Ho
Zindagi Khafa Khafa Aur
Tum Dil Lagane Ki Baat Karthe Ho
Aankh Hain Bhari Bhari Aur
Tum Muskurane Ki Baat Karte Ho


Mere Haalat Aisi Hai Ki
Main Kuch Kar Nahin Sakta
Mere Haalat Aisi Hai Ki
Main Kuch Kar Nahin Sakta
Tadapta Hai Yeh Dil Lekin
Yeh Aahen Bhar Nahin Sakta
Zakhm Hai Hara Hara Aur
Tum Chot Khaane Ki Baat Karte Ho
Zindagi Khafa Khafa Aur
Tum Dil Lagane Ki Baat Karthe Ho
Aankh Hain Bhari Bhari Aur
Tum Muskurane Ki Baat Karte Ho


Zamane Mein Bhala Kaise
Mohabbat Log Karte Hai
Zamane Mein Bhala Kaise
Mohabbat Log Karte Hai
Wafa Ke Naam Ki Ab To
Shikayat Log Karte Hai
Aag Hai Buji Buji Aur Tum
Lau Jalane Ki Baat Karte Ho
Zindagi Khafa Khafa Aur Tum
Dil Lagane Ki Baat Karthe Ho
Aankh Hain Bhari Bhari Aur
Tum Muskurane Ki Baat Karte Ho


Kabhi Jo Khwaab Dekha
To Mili Parchiyaan Mujhko
Kabhi Jo Khwaab Dekha
To Mili Parchiyaan Mujhko
Muhje Mehfil Ki Khwaaish
Thi Mili Tanhaaiyan Mujhko
Har Taraf Dua Dua Aur Tum
Aashiyaane Ki Baat Karthe Ho
Zindagi Khafa Khafa Aur
Tum Dil Lagane Ki Baat Karthe Ho
Aankh Hain Bhari Bhari Aur
Tum Muskurane Ki Baat Karte Ho




No comments